computer me hindi typing kaise kare | Pro Tips

computer me hindi typing kaise kare Pro Tips

Computer में हिंदी टाइपिंग कैसे करें ? कंप्यूटर में english …

और ज्यादा पढ़ें

लैपटॉप में सिस्टम फॉन्ट कैसे बदलें | How to change font in windows 10

लैपटॉप में सिस्टम फॉन्ट कैसे बदलें How to change font in windows 10

आज मैं आप लोग को लैपटॉप में सिस्टम font कैसे बदलें (change font in windows 10) इसके बारे में जानकारी देने वाला हूं कई सारे लोग अपने लैपटॉप में font को बदलना चाहते हैं . ऐसे में सवाल यह उठता है कि आखिर विंडो 10 में system font कैसे change करते हैं ?

system font क्या होता है –what is sytem font in hindi

जो font डिवाइस में पहले से दिया गया होता है उसी को system font कहा जाता है .

system font को बदला जा सकता है नीचे दिए गए तरीके से हम लैपटॉप और कंप्यूटर में system font को बदलना सीखेंगे .

लैपटॉप में सिस्टम फॉन्ट कैसे बदलें  How  to change font in windows 10 and 11

लैपटॉप में सिस्टम फॉन्ट कैसे बदलें | How to change system font in windows 10

system font को बदलने के लिए 2 तरीका है . यहां हम आपको दोनों तरीका बताएंगे इसका इस्तेमाल करके आप अपने कंप्यूटर में font change कर सकते हैं.

लैपटॉप में font बदलने का पहला तरीका थोड़ा अलग है इसके लिए आपको टेक्निकल चीजें करनी होती है . जैसे कि आप को अपने लैपटॉप में इंस्टॉल किए गए विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम की registry file को बदल सकते हैं ।

आपको नीचे दिए गए code को notepad app में टाइप करना होगा और फिर इसे किसी भी file name के साथ अपने लैपटॉप में save करना होगा ।

सबसे पहले आपको नीचे दिए गए text को copy करना है और अपने लैपटॉप में notepad ऐप ओपन करके paste करें ।

[HKEY_LOCAL_MACHINE\SOFTWARE\Microsoft\Windows NT\CurrentVersion\Fonts]
"Segoe UI (TrueType)"=""
"Segoe UI Bold (TrueType)"=""
"Segoe UI Bold Italic (TrueType)"=""
"Segoe UI Italic (TrueType)"=""
"Segoe UI Light (TrueType)"=""
"Segoe UI Semibold (TrueType)"=""
"Segoe UI Symbol (TrueType)"=""

[HKEY_LOCAL_MACHINE\SOFTWARE\Microsoft\Windows NT\CurrentVersion\FontSubstitutes]

"Segoe UI"="new font type here"

इसके बाद दिए गए code में “Segoe UI”=”new font type here” में new font type here में font का नाम type करना है ।

इसके बाद इसे किसी नाम के साथ file type में All file करके save करें ।

जिस नाम से इस font को save करेंगे उसे .reg file extension के साथ save करना है ।

100 Computer Link

कंप्यूटर के बारे में (computer ke bare me)

कंप्यूटर के बारे में (computer ke bare me)

हम जानेंगे कंप्यूटर के बारे में सभी बेसिक जानकारी एकदम आसान भाषा में । कई लोग मुझसे पूछ रहे थे कि कंप्यूटर की जानकारी के बारे में बता दो. मैंने भी सोचा कि Computer के बारे में basic knowledge तो सभी को होना जरूरी है. फिर मैंने सोचा कि चलो आज ही कंप्यूटर के बारे में बेसिक संपूर्ण जानकारी लिख देते हैं तो

अगर आप कंप्यूटर के बारे में संपूर्ण जानकारी जानना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको कंप्यूटर की बेसिक जानकारी होना जरूरी है तो आइए जानते हैं कंप्यूटर का सामान्य ज्ञान क्या है.

कंप्यूटर का बेसिक ज्ञान | कंप्यूटर के बारे में (computer ke bare me)

कंप्यूटर इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है और इस इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस में कई सारे भाग होते हैं जिसमें डिस्प्ले, माउस, कीबोर्ड और मदरबोर्ड के साथ सीपीयू जैसे उपकरण एक साथ आते हैं.

कंप्यूटर में जब भी हम कोई डाटा इनपुट करते हैं तो कंप्यूटर का सीपीयू हमारे उस डाटा को प्रोसेस करता है और हमें कुछ आउटपुट देता है. कंप्यूटर का सीपीयू जिस डाटा को प्रोसेस करके आउटपुट देता है वह आउटपुट हमें मॉनिटर पर डिस्प्ले होता है.

कंप्यूटर के भाग | computer ke part in hindi

थोड़ा सा और डिटेल में बात किया जाए तो कंप्यूटर मुख्य रूप से 2 पार्ट में बटा हुआ है और इन्हीं दोनों पाठ से कंप्यूटर बना भी हुआ है जिसका नाम है हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर.

कंप्यूटर के बारे में (computer ke bare me)
computer ki basic knowledge in hindi

कंप्यूटर हार्डवेयर के बारे में जानकारी | about computer hardware kya hai

कंप्यूटर के जिस भी भाग को हम छू सकते हैं उसे हार्डवेयर कहा जाता है वहीं पर जिस भाग को हम छू नहीं सकते उन्हें सॉफ्टवेयर कहा जाता है.

कंप्यूटर के हार्डवेयर भाग में माउस, कीबोर्ड, सीपीयू, प्रिंटर, मॉनिटर, माइक्रोफोन हेडफोन, और फैक्स मशीन जैसी डिवाइस होती हैं आप इन्हें हार्डवेयर कह सकते हैं.

कंप्यूटर सॉफ्टवेयर के बारे में जानकारी | about computer software kya hai

वहीं पर कंप्यूटर के सॉफ्टवेयर भाग की बात की जाए तो सॉफ्टवेयर एक तरह से प्रोग्राम होते हैं जिनमें कई सारे इंस्ट्रक्शन दिए होते हैं और इन्हीं इंस्ट्रक्शन को मिलाकर एक सॉफ्टवेयर बनाया जाता है और इन सॉफ्टवेयर पर हम काम करते हैं.

कंप्यूटर के सॉफ्टवेयर की बात की जाए तो अनगिनत सॉफ्टवेयर उपलब्ध हैं लेकिन यहां पर मैं आपको कंप्यूटर के ऐसे सॉफ्टवेयर के बारे में बताऊंगा जो कि रोजमर्रा कंप्यूटर पर काम में लिया जाता है जिसमें माइक्रोसॉफ्ट एक्सेल, माइक्रोसॉफ्ट वर्ड, गूगल क्रोम ,ब्राउजर नोटपैड, वीडियो एडिटिंग सॉफ्टवेयर, कंट्रोल पैनल, माइक्रोसॉफ्ट पावरप्वाइंट जैसे कई सारे सॉफ्टवेयर है यहां पर मैंने आपको सिर्फ कुछ नाम ही दिए हैं.

एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर के बारे में जानकारी | about application software kya hai

कंप्यूटर सॉफ्टवेयर की बात की जाए तो आप समझ लीजिए जिस भी एप्लीकेशन को आप कंप्यूटर में ओपन करते हैं वह सब सॉफ्टवेयर हैं. इस तरह के सॉफ्टवेयर को एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर कहा जाता है.

सिस्टम सॉफ्टवेयर के बारे में जानकारी | about system software kya hai

वहीं पर कुछ अलग टाइप के सॉफ्टवेयर होते हैं जिन्हें सिस्टम सॉफ्टवेयर कहा जाता है क्योंकि इनके बिना आप कंप्यूटर का इस्तेमाल नहीं कर सकते इसीलिए इन्हें सिस्टम सॉफ्टवेयर कहा जाता है.

सिस्टम सॉफ्टवेयर में आप किसी भी कंप्यूटर का ऑपरेटिंग सिस्टम समझ सकते हैं जब हम कंप्यूटर को ओपन करते हैं ऑन करते हैं तो सबसे पहले जो कंप्यूटर में डिस्प्ले होता है वह हमारा सिस्टम सॉफ्टवेयर होता है.

विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम के बारे में

पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला सिस्टम सॉफ्टवेयर माइक्रोसॉफ्ट विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम है.

यदि आप लैपटॉप चलाते हैं या कंप्यूटर चलाते हैं और आपके लैपटॉप या कंप्यूटर में विंडोज का ऑपरेटिंग सिस्टम है इसका मतलब यह है वह विंडोज का ऑपरेटिंग सिस्टम एक सिस्टम सॉफ्टवेयर है क्योंकि इसके बिना हम किसी भी लैपटॉप या कंप्यूटर को चला नहीं सकते.

कंप्यूटर की बेसिक जानकारी की बात हो रही है तो आपको यह जानना जरूरी है कि आखिर कंप्यूटर काम कैसे करता है.

कंप्यूटर काम कैसे करता है | कंप्यूटर के मुख्य कार्य | computer kaise kam karta hai

कंप्यूटर 3 सेक्शन में काम करता है

इनपुट – प्रोसेस – आउटपुट

जब भी हम किसी इनपुट डिवाइस का इस्तेमाल करके कंप्यूटर में डाटा भेजते हैं या फिर हम कंप्यूटर को दिशा निर्देश देते हैं ऐसे में इसे कंप्यूटर में डाटा इनपुट करना कहा जाता है और इसके लिए हमें इनपुट डिवाइस का इस्तेमाल करना पड़ता है.

इनपुट डिवाइस क्या होता है | input device kya hai

इनपुट डिवाइस ऐसे डिवाइस हैं जिनका इस्तेमाल करके हम किसी कंप्यूटर में डाटा या इंस्ट्रक्शन भेजते हैं. इनपुट डिवाइस इस प्रकार हैं-

कीबोर्ड ,माउस, स्कैनर ,माइक्रोफोन ,बारकोड स्कैनर ,डिजिटल इंटरएक्टिव पैनल etc यह सभी इनपुट डिवाइस के एग्जांपल हैं.

इनपुट डिवाइस का इस्तेमाल

मान लीजिए कि हमें अपने कंप्यूटर में एक लेटर लिखना है ऐसे में हम बिना कीबोर्ड के कंप्यूटर में लेटर नहीं लिख सकते या लेटर टाइप नहीं कर सकते इसके लिए हमें एक कीबोर्ड की जरूरत होगी आप इसे मोबाइल की तरह भी समझ सकते हैं.

मान लीजिए हमें अपने मोबाइल से किसी को ईमेल करना है ऐसे में हम जीमेल का इस्तेमाल करके ईमेल भेजते हैं जब हम जीमेल ओपन करते हैं और किसी को ईमेल भेजने के लिए क्लिक करते हैं तो हमारे मोबाइल का कीपैड ओपन हो जाता है तो यह कीपैड ही हमारा इनपुट डिवाइस होता है उसी तरीके से कंप्यूटर की दशा में कीबोर्ड इनपुट डिवाइस का काम करता है.

प्रोसेसिंग क्या होता है | Processing kya hota hai

जैसा कि मैंने पहले भी बोला कंप्यूटर में किसी भी कार्य को करने के लिए हमें इनपुट डिवाइस का इस्तेमाल करके कोई भी डाटा को इनपुट करना होता है इसके बाद जब हमारे कंप्यूटर में डाटा इनपुट हो जाता है तो हमारा कंप्यूटर किसे प्रोसेस करता है.

“कंप्यूटर में डाटा प्रोसेसिंग करने की प्रक्रिया को ही प्रोसेसिंग कहा जाता है”

डाटा प्रोसेसिंग को हम कुछ इस उदाहरण से समझते हैं | data processing example

मान लीजिए कि हमें कंप्यूटर में केलकुलेटर का इस्तेमाल करना है तो हम किस तरह से कैलकुलेटर का इस्तेमाल करेंगे-

हम सबसे पहले तो केलकुलेटर एप्प ओपन करेंगे.

इसके बाद कंप्यूटर के कीबोर्ड से जिस भी संख्या को जोड़ना है उसे हम कुछ इस फॉर्म में इनपुट करेंगे.

4 + 5

इसके बाद हम अपने कंप्यूटर के कीबोर्ड से इंटर करेंगे.

हमारा कंप्यूटर समझ जाएगा कि यूजर को इस दो संख्या को जोड़कर बताना है ऐसे में कंप्यूटर सबसे पहले डाटा रीड करेगा पहला डाटा 4 है उसके बाद से प्लस (+) का निशान है यानी जोड़ना है .

दूसरा संख्या 5 है इसके बाद कंप्यूटर हमारे द्वारा दिए गए Intrustion data को प्रोसेस करेगा इन डाटा को जोड़कर हमें एक आउटपुट देगा .

इस आउटपुट को हम कंप्यूटर के डिस्प्ले पर देख सकते हैं यह सभी प्रक्रिया डाटा प्रोसेसिंग के अंदर आती है.

यानी हमने कंप्यूटर के कीबोर्ड से उस डाटा इनपुट किया उसके बाद से कंप्यूटर में जो एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर है उसने इस डेकोरेट किया और हमें कुछ आउटपुट दिया लेकिन इस आउटपुट के पहले क्या हुआ?

” इन सभी डाटा को कंप्यूटर ने सबसे पहले इनपुट data को रीड किया फिर प्रोसेस किया उसके बाद हमें आउटपुट दिया”

आउटपुट डिवाइस क्या होता है | ouput device kya hai

आउटपुट डिवाइस क्या होता है सीधा सा जवाब है कंप्यूटर की सभी जानकारी को हम जिस स्क्रीन पर देखते हैं वही आउटपुट डिवाइस होता है. जैसे मान लीजिए अगर कंप्यूटर में जो भी जानकारी को देखना है तो हमें इसके लिए एक मॉनिटर की जरूरत पड़ेगी मॉनिटर टीवी स्क्रीन जैसा ही होता है और यह कंप्यूटर में जो भी डाटा है उसको डिस्पले करता है.

अगर हमें कंप्यूटर में किसी ऑडियो को सुनना है तो उसके लिए हेडफोन की जरूरत पड़ेगी. या फिरकंप्यूटर मेंरिकॉर्ड की गई आवाज को सुनने के लिए हमें एक ऑडियो स्पीकर की जरूरत पड़ेगी.

Computer Output device example

मान लीजिए कि हमें कंप्यूटर में मूवी देखनी है ऐसे में हम मॉनिटर पर मूवी का सीन देख सकते हैं लेकिन अगर हमें उसकी आवाज सुननी है तो हमें कंप्यूटर में साउंड कनेक्ट करना पड़ेगा साउंड स्पीकर 1 तरह से हमारे लिए आउटपुट डिवाइस है

वहीं पर अगर हमें कंप्यूटर में दिए डाटा को देखने के बाद हमसे कहीं हार्ड कॉपी में भेजना चाहते हैं तो इससे प्रिंट करना पड़ेगा और इसके लिए हमारे पास प्रिंटर होना चाहिए.

फिर हम उस डाटा को प्रिंट करके डॉक्यूमेंट को बाहर निकाल सकते हैं और फिर उसको फिजिकली रूप से इस्तेमाल कर सकते हैं.

कंप्यूटर की बेसिक जानकारी की बात हो रही है कंप्यूटर के सामान्य ज्ञान की बात हो रही है ऐसे में सीपीयू के बारे में जानकारी ना लेना कुछ कमी सा लगता है आपने बहुत बार सीपीयू का नाम सुना होगा लेकिन समझ में नहीं आया होगा कि आखिर सीपीयू होता क्या है

आइए हम जानते सीपीयू के बारे में आखिर यह सीपीयू क्या है और जब कंप्यूटर की बात होती है तो सीपीयू क्या होता है और यह क्या कार्य करता है

सीपीयू क्या है | CPU ka Full Form in hindi | CPU kya hai

सीपीयू का फुल फॉर्म होता है सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट. CPU = central processing unit

C for central

p for processing

u for unit

अभी हमने ऊपर पड़ा कि जब हम कंप्यूटर में कोई डाटा भेजते हैं तो कंप्यूटर उन कांटा को प्रोसेस करता है और इस प्रक्रिया को प्रोसेसिंग कहा जाता है यह सब कार्य सीपीयू के द्वारा किया जाता है.

सीपीयू की परिभाषा

यानी सीपीयू सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (CPU) , कंप्यूटर का मुख्य भाग है जो कंप्यूटर के mother बोर्ड में रहता है . कंप्यूटर का मदरबोर्ड एक सर्किट बोर्ड होता है जिस पर कंप्यूटर में काम आने वाले सभी छोटे-छोटे ट्रांजिस्टर एंड chip लगे होते हैं.

वहीं पर कंप्यूटर के मदरबोर्ड में सीपीयू भी लगा होता है कंप्यूटर के मदरबोर्ड में सीपीयू ही एक ऐसा पार्ट है जो कंप्यूटर में सबसे ज्यादा महंगा होता है.

जितना ज्यादा महंगा CPU होगा, जितना ज्यादा एडवांस सीपीयू होगा जितना ज्यादा लेटेस्ट जेनरेशन का सीपीयू होगा ,आपका कंप्यूटर उतना ही फास्ट डाटा प्रोसेस करेगा.

कंप्यूटर में सीपीयू काम कैसे करते हैं | Computer me cpu kaise kaam karta hai

सीपीयू का मुख्य काम कंप्यूटर में इंस्टॉल किए गए ऑपरेटिंग सिस्टम और एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को ऑपरेट करना होता है. एक तरफ से सीपीयू, कंप्यूटर इस्तेमाल करने वाले यूजर से किसी भी प्रकार की एक्टिविटी दर्ज करने पर काम करता है.

सीपीयू की काम करने की जानकारी और गतिविधि आप कंप्यूटर के टास्कबार में देख सकते हैं.

कंप्यूटर में कोई ऐसा सॉफ्टवेयर जिससे आपने ओपन कर रखा है लेकिन आप कोई इनपुट नहीं दे रहे हैं फिर भी सॉफ्टवेयर के बैकग्राउंड में बहुत सारे ऐसे टास्क होते हैं जो किए जाते हैं और यह सभी ऑटोमेटिक अपडेट होते हैं ऐसी कंडीशन में भी आप कंप्यूटर के सीपीयू (CPU) की गतिविधि (activity) देख पाएंगे.

सीपीयू में कई सारे प्रोसेसर लगे होते हैं जिन्हें चिप (chip) कहा जाता है ऐसे में इन्हें सीपीयू सिंगल कोर CPU कहते हैं, जिन सीपीयू में 2 कोर होते हैं उन्हें डुएल कोर सीपीयू (dual core) कहा जाता है वहीं पर जिस सीपीयू में 4 कोर होते हैं उन सीपीयू को Quad core cpu कहते हैं

वहीं पर हाई एंड पीसी में इससे भी ज्यादा सीपीयू कोर होते हैं जैसे मान लीजिए किसी सीपीयू में 6 कोर हैं ऐसे में इन्हें hexa core CPU और 8 कोर वाले सीपीयू को octa- core processor कहा जाता है.

ऐसे कई सारे कंप्यूटर होते हैं जिनमें 1 से अधिक सीपीयू का इस्तेमाल किया जाता है जिन कंप्यूटर में एक से अधिक सीपीयू प्रोसेसर का इस्तेमाल किया जाता है उन कंप्यूटर की स्पीड बहुत ज्यादा होती है.

अब बात करते हैं मदरबोर्ड के बारे में

मदर बोर्ड क्या है | motherboard kya hai | motherboard ke bare me jankari

जिस बोर्ड पर सीपीयू (cpu chip) लगा होता है उसी को मदरबोर्ड (mother) कहते हैं. एक्चुअल में यह एक सर्किट बोर्ड होता है लेकिन इसे मदरबोर्ड कहने के पीछे भी कारण है .

कंप्यूटर में जितने भी port , ट्रांजिस्टर और माइक्रो लेवल के सेमीकंडक्टर लगे होते हैं वह सभी इस सर्किट बोर्ड पर ही लगा होता है इसीलिए इस बोर्ड को मदरबोर्ड कहा जाता है.

मदर बोर्ड में कंप्यूटर का प्रोसेसर , RAM मेमोरी , स्टोरेज मेमोरी,हार्ड डिस्क ड्राइव ,सॉलि़ड स्टेट ड्राइव वीडियो कार्ड ,ग्राफिक्स कार्ड वगैरह सभी तरह के इलेक्ट्रॉनिक उपकरण लगे होते हैं.

कंप्यूटर के फायदे और नुकसान | Computer ke fayde aur nuksan in hindi

जैसे दुनिया में हर चीज के फायदे और नुकसान होते हैं उसी तरीके से कंप्यूटर के भी फायदे और नुकसान हैं .

कंप्यूटर के फायदे | computer benefits in hindi

कंप्यूटर से आप मल्टीटास्किंग कर सकते हैं मल्टीटास्किंग का मतलब यह है कि कंप्यूटर से आप एक समय में कई सारे काम निकलवा सकते हैं जब हम कंप्यूटर पर एक साथ कई सारे काम करते हैं तो इनको मल्टीटास्किंग कहा जाता है.

कंप्यूटर एक सेकंड में कई हजार करोड़ अरब खरबो तक गणना कर सकता है जो कि आम इंसान के लिए नामुमकिन है. एक तरफ देखा जाए तो इस हिसाब से कंप्यूटर इस्तेमाल करना हमारे लिए फायदा है.

कंप्यूटर की स्पीड – कंप्यूटर इतनी तेजी से काम कर सकता है उतनी तेजी से कोई इंसान काम नहीं कर सकता कि कंप्यूटर को बनाने वाला इंसान ही है लेकिन बहुत काम कर सकता है क्योंकि कंप्यूटर नहीं है हिसाब भी देखा जाए तो कंप्यूटर इस्तेमाल करना हर इंसान के लिए फायदेमंद है

कंप्यूटर पर वरना किए जाने वाली चीजों की शुद्धता– क्योंकि कंप्यूटर में सभी काम किसी एप्लीकेशन और सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करके किया जाता है और इन सभी सॉफ्टवेयर को पहले से किसी एक्सपर्ट प्रोग्रामर के द्वारा डेवलप करा जाता है ऐसे में कंप्यूटर से की जाने वाली घटना की जानकारी बहुत ही सटीक होती है इस हिसाब से भी देखा जाए तो कंप्यूटर इस्तेमाल करना हमारे लिए फायदेमंद है.

कंप्यूटर में डाटा सुरक्षित रखना –कंप्यूटर में किसी भी प्रकार के डाटा को सुरक्षित रख सकते हैं जैसे मान लीजिए कि आपके पास कोई डॉक्यूमेंट है आप उसे स्कैन करके कंप्यूटर में रख सकते हैं ऐसे में आपका डॉक्यूमेंट कंप्यूटर में सुरक्षित रह सकता है वैसे यह तो एक साधारण सा example था आप इसी तरीके से फिजिकल डॉक्यूमेंट को डिजिटल रूप से कंप्यूटर में सुरक्षित रख सकते हैं.

आप चाहे तो क्लाउड सर्वर पर भी अपने डॉक्यूमेंट को सुरक्षित रख सकते हैं और पूरी दुनिया में किसी भी जगह से इसे एक्सेस कर सकते हैं आप क्लाउड स्टोरेज भी खरीद सकते हैं.

cloud storage का मतलब यह है कि एक ऐसा स्टोरेज जोकि कोई फिजिकल डिवाइस में नहीं है इसे सर्वर पर रखा जाता है इसका मतलब यह है कि अगर आप अपने कंप्यूटर से क्लाउड स्टोरेज मे डॉक्यूमेंट रखते हैं तो आप दुनिया में किसी भी जगह से अपने इस डॉक्यूमेंट को इस्तेमाल कर सकते हैं. इस तरह से देखा जाए तो यहां भी कंप्यूटर के फायदे हैं.

कंप्यूटर के कुछ नुकसान भी है आइए इनके बारे में भी जानते हैं

कंप्यूटर इस्तेमाल करने के नुकसान | computer ke nuksan

कंप्यूटर में वायरस और मैलवेयर के जरिए साइबर हमले किए जाते हैं ऐसे में यदि आप अपने डॉक्यूमेंट फाइल और जरूरी चीजों को सुरक्षित नहीं रखते हैं तो यह वायरस और मैलवेयर हमारी फाइलों को करप्ट कर देते हैं.

इसके अलावा हैकिंग के जरिए कोई आपके कंप्यूटर में मैलवेयर भेजकर आपके कंप्यूटर से जानकारी चुरा सकता है इस तरह से देखा जाए तो कंप्यूटर इस्तेमाल करने का यह नुकसान है.

solution – ऐसे में आपको अपने कंप्यूटर में एक सही (paid antivirus) एंटीवायरस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करना जरूरी है

कंप्यूटर कैसे चलाते हैं सीखिए वीडियो से

लैपटॉप अपडेट कैसे करते हैं

ऑनलाइन साइबर क्राइम– यदि आप कंप्यूटर का इस्तेमाल करके शॉपिंग वगैरह करते हैं तो ऐसे में यदि कोई आपके ऑनलाइन अकाउंट, पर्सनल जानकारी कार्ड क्रेडिट कार्ड का नंबर चुरा ले तो आपके बैंक अकाउंट के साथ फ्रॉड हो सकता है. इस तरह से भी देखा जाए तो कंप्यूटर इस्तेमाल करने का नुकसान है.

सलूशन – आप इन चीजों को रोक नहीं सकते लेकिन आप सुरक्षित तरीके से ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते हैं और यह ध्यान रखें कि आपके डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड की जानकारी किसी को ना लगे.

बेरोजगारी का मुद्दा– 2022 तक सब कुछ सही था लेकिन 2023 में AI की एंट्री के कारण, अब कंप्यूटर की वजह से लोगों को बेरोजगार होना पड़ रहा है. क्योंकि एआई के कारण लगभग सभी आईटी कंपनियां टीआई के जरिए अपना कामकाज करवा रही हैं और लोगों को नौकरियों से निकाल रहे हैं.

गूगल ने हाल ही में कई हजार कर्मचारियों को कंपनी से निकाल दिया और ना सिर्फ गूगल वालों की यह काम दुनिया की सभी कंपनियां कर रही हैं.

इस तरह से देखा जाए तो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के आने के बाद यह बहुत बड़ा नुकसान हो रहा है जो आने वाले समय में मानव जीवन पर काफी प्रभाव डाल सकता है.

कंप्यूटर के बारे में (computer ke bare me basic information in hindi)

दोस्तों कंप्यूटर के बारे में जानकारी? जैसे कंप्यूटर की संपूर्ण बेसिक जानकारी (basic of computer in hindi full complete guide), part of computer in hindi etc. के बारे में मैंने आप लोग को बता दी.

और यहां पर लगभग कंप्यूटर के बारे में संपूर्ण ज्ञान दे दिया जो भी पहली बार कंप्यूटर के बारे में सामान्य जानकारी या जनरल नॉलेज की जानकारी सीखना चाहते हैं उनके लिए यह लेख बहुत ही बेहतरीन है.

आपके मित्र और रिश्तेदार को कंप्यूटर के बारे में (computerr ke bare mein jankari) नहीं पता और वे एक कंप्यूटर के बारे में जानना (learn basic of computer in hindi) चाहते हैं तो आप इस आर्टिकल जानकारी को उनके साथ फेसबुक और व्हाट्सएप पर जरूर शेयर करें.

ताकि वे भविष्य की आने वाली चुनौतियों से लड़ने के लिए तैयार हो सके. इस तरह की जानकारी के लिए आप megahindi.com वेबसाइट पर रोजाना विजिट करें. धन्यवाद

Top 8 Best Social Media Apps For Android

Best Social Media Apps For Android

The world of social media can be overwhelming. With so many different apps available that all promise to be the best, it’s difficult to know where to begin. In this article, we’ll uncover the 8 best social media apps for Android that can help you stay connected with the people around you, no matter where you are.

We spend so much time on our phones it’s important to make sure that the apps we use are the right ones for us. From micro-blogging and photo-sharing, to live streaming and video chat, these 8 social media apps will let you create content, share stories, chat with friends, or even livestream yourself for the world to see.

Facebook

Facebook is a widely-used social media app that offers a range of features such as newsfeeds, messaging, and photo sharing. With over 2.8 billion monthly active users as of the fourth quarter of 2020, Facebook has undoubtedly made a significant impact on society. It has revolutionized the way people connect with one another, allowing for easy communication and information sharing on a global scale. Facebook’s influence extends beyond personal relationships, as it has also become a vital platform for businesses and organizations to reach their target audiences and advertise their products or services.

Overall, Facebook’s impact on society cannot be understated, and its future developments are likely to shape the way we communicate and connect with others even further.

Instagram

Instagram, a widely-used platform, offers users the ability to share photos and videos with their followers through its user-friendly interface. With over one billion monthly active users, Instagram has had a significant impact on visual storytelling in the digital age.

Through its various features like filters, editing tools, and stories, Instagram allows individuals and businesses to curate their visual narratives and engage with their audience in creative ways. The platform’s emphasis on visuals has transformed how we consume and create content, fostering a culture of aesthetically pleasing imagery.

Moreover, Instagram’s role in social media marketing cannot be overlooked. Businesses leverage the platform’s vast user base and advertising capabilities to reach potential customers effectively. Influencer marketing has also become prominent on Instagram, as brands collaborate with popular users to promote their products or services.

Overall, Instagram has revolutionized visual storytelling and become an integral part of social media marketing strategies for individuals and businesses alike.

X/Twitter

Twitter, a microblogging platform, allows users to share short messages or ‘tweets’ with their followers in real-time, facilitating rapid information dissemination and global conversations on various topics. One of the key features of Twitter is the use of hashtags, which enable users to categorize and search for tweets related to specific topics. Hashtags also play a significant role in shaping conversations on Twitter by highlighting trending topics and promoting discussions around them. Users can follow these trends to stay updated on current events or join in the conversation by using relevant hashtags in their tweets.

However, it is important for users to adhere to certain etiquette when tweeting. Dos include being concise, engaging with others respectfully, and sharing valuable content. Don’ts include spamming, engaging in online harassment or bullying, or spreading false information. By following these guidelines, users can make their tweeting experience more effective and enjoyable while contributing positively to the Twitter community.

Snapchat

Snapchat, a multimedia messaging app, allows users to send photos and videos that disappear after being viewed, providing a platform for ephemeral communication and self-expression. Despite its popularity, Snapchat has faced privacy concerns regarding the security of user data. In 2013, the app experienced a security breach that led to the leak of millions of user images. This incident raised questions about Snapchat’s ability to protect user privacy. However, since then, the company has implemented various measures to enhance security and privacy on its platform.

Apart from privacy concerns, Snapchat is known for its innovative filters and effects that allow users to modify their photos and videos in creative ways. These filters provide an element of fun and playfulness to the app and have become one of its distinguishing features. From face-altering filters to augmented reality effects, Snapchat continuously introduces new ways for users to express themselves visually.

Overall, while Snapchat offers unique features for ephemeral communication and self-expression through its disappearing messages and creative filters/effects, it must address ongoing privacy concerns to maintain user trust in the platform.

Pinterest

Pinterest, a visual discovery engine, allows users to discover and save ideas for various interests including fashion, home decor, recipes, and more. With its vast collection of images curated by users and brands alike, Pinterest serves as a platform for visual inspiration.

Users can browse through countless categories and boards created by others or create their own personalized boards to save and organize ideas. One prominent area on Pinterest is DIY and crafts. It offers a wide range of creative projects and step-by-step tutorials that cater to different skill levels. From simple crafts for beginners to complex DIY projects, Pinterest provides a wealth of resources for individuals looking to engage in hands-on activities.

The platform’s emphasis on visuals makes it an ideal place for people seeking inspiration in the realm of DIY and crafts.

LinkedIn

LinkedIn, a professional networking platform, provides users with the opportunity to connect and engage with other professionals in their industry, build their personal brand, and showcase their skills and experience through an online profile.

The platform enables users to expand their professional network by connecting with colleagues, clients, employers, and potential business partners. Through this networking capability, individuals can stay up-to-date with industry trends and developments, as well as seek career opportunities or collaborations.

Additionally, LinkedIn offers various features to help users build their personal brand. Users can create a detailed profile that highlights their achievements, education background, skills, and endorsements from connections. They can also publish articles or share content related to their field of expertise to establish themselves as thought leaders within the industry.

TikTok

TikTok, a popular video-sharing platform, allows users to create and share short videos featuring various forms of content such as lip-syncing, dancing, comedy sketches, and challenges. With over 2 billion downloads globally, TikTok has become a cultural phenomenon.

Its appeal lies in the ability for users to easily create and upload their own content, thereby contributing to the vast amount of user-generated content on the platform. This user-generated content ranges from individuals showcasing their talents to creative collaborations with friends or strangers.

Additionally, TikTok is known for its viral challenges that spread rapidly among users. These challenges often involve specific dances or actions that gain popularity through shares and participation. The platform’s algorithm plays a crucial role in promoting these challenges by recommending them to users based on their interests and viewing habits.

Overall, TikTok provides an outlet for creativity and self-expression while fostering a sense of community through its user-generated content and viral challenges.

WhatsApp

WhatsApp, a messaging application owned by Facebook, allows users to send text messages, voice recordings, images, and videos to individuals or groups through an internet connection. The platform has gained widespread popularity due to its user-friendly interface and cross-platform compatibility.

However, WhatsApp has faced privacy concerns in recent years. Critics argue that the app collects excessive amounts of user data and shares it with third parties. This has raised questions about the security and confidentiality of personal information shared on the platform. In comparison to other messaging apps like Signal or Telegram, WhatsApp’s encryption methods have been criticized for not being as secure.

While WhatsApp remains a popular choice for communication worldwide, users must be cautious about their privacy when using the platform.

Conclusion

In conclusion, the top 8 best social media apps for Android include:

  1. Facebook
  2. Instagram
  3. Twitter
  4. Snapchat
  5. Pinterest
  6. LinkedIn
  7. TikTok
  8. WhatsApp

These platforms offer users various ways to connect with others and share content. One interesting statistic that grabs attention is that as of April 2021, Facebook has over 2.85 billion monthly active users worldwide. This highlights the immense popularity and widespread use of social media apps among Android users.

With their diverse features and wide user bases, these apps continue to shape the way people communicate and interact in the digital age.

नोटपैड क्या होता है | computer me notepad kya hai | How to use in computer

नोटपैड क्या होता है computer me notepad kya hai How to use in computer

नोटपैड (Notepad) क्या होता है ?और कैसे इस्तेमाल करें? – नोटपैड एक साधारण टेक्स्ट एडिटर प्रोग्राम है यह एक एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर है जो microsoft Windows os के साथ आता है इसका इस्तेमाल आप किसी भी तरह का Text लिखने के लिए कर सकते हैं किसी भी टेक्स्ट डॉक्यूमेंट को आप इस Notepad app में लिखकर save कर सकते हैं. 

 उदाहरण के लिए –  यदि आप किसी topic के ऊपर लेख लिखना चाहते हैं तो आप नोटपैड ऐप को ओपन करके लिख सकते हैं.  और फिर इसे सेव करके अपने लैपटॉप या कंप्यूटर में किसी सुरक्षित फोल्डर में रख सकते हैं.  इसके अलावा आप इसके फाइल नेम (file name) को edit कर सकते हैं.  दोबारा से आप इस नोटपैड की फाइल को ओपन करके अपने लिखे हुए लेख को मॉडिफाई कर सकते हैं. 

 नोटपैड क्यों उपयोग किया जाता है ?-

 नोटपैड को साधारण रूप से टेक्स्ट लिखने के लिए इस्तेमाल किया जाता है नोटपैड का इस्तेमाल नॉर्मल programming के तौर पर भी किया जाता है.  यदि आप किसी तरह का प्रोग्राम लिखना चाहते हैं कंप्यूटर में तो आप नोटपैड का इस्तेमाल करके लिख सकते हैं. 

नोटपैड क्या होता है  computer me notepad kya hai  How to use in computer

 यदि आप ब्राउजिंग बेस्ट प्रोग्राम लिखना चाहते हैं तो आप एचटीएमएल की कोड नोटपैड ऐप में लिखकर इससे ब्राउज़र में ओपन करके रन कर सकते हैं.  यानी छोटे-मोटे साधारण प्रोग्राम को आप notepad app में लिख सकते हैं और इसे run कर सकते हैं. 

 windows 11 में notepad app को update किया गया है अब आप नोटपैड ऐप को डार्क मोड में भी यूज कर सकते हैं इसके अलावा नोटपैड एप का लुकआउट भी चेंज कर दिया गया है.  नोटपैड एप्लीकेशन एक फ्री ऐप है जो माइक्रोसॉफ्ट विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ आता है. 

 नोटपैड कैसे इस्तेमाल करें | How to use notepad app in hindi

 नोटपैड का इस्तेमाल करना बहुत आसान होता है इसके लिए आपको नीचे दिए गए स्टेप को ध्यान पूर्वक फॉलो करना पड़ेगा. 

  1.  सबसे पहले अपने लैपटॉप/  कंप्यूटर में विंडो icon के साइड दिए गए search बार में नोटपैड टाइप करें.
  2. अब आपके कंप्यूटर की स्क्रीन पर नोटपैड ऐप दिखाई देगा इस पर क्लिक करके ओपन करें.
  3.  अब सिंपली आप इसमें जो भी टेक्स्ट लिखना चाहते हैं आप लिख सकते हैं.
  4.  यदि आपके कंप्यूटर या laptop में हिंदी लैंग्वेज पैक स्टार्ट है तो आप नोटपैड में हिंदी भाषा में भी लिख सकते हैं.
  5.  जब आपने नोटपैड में पैराग्राफ लिख लिया हो फिर इसलिए सेव करना होता है.
  6.  नोटपैड की फाइल को सेव करने के लिए अपने कंप्यूटर के कीबोर्ड से ctrl + s  एक साथ प्रेस करें.
  7.  इसके बाद आपको यहां पर notepad की फाइल को सेव करना है वह लोकेशन चुने.
  8.  अब आपको फाइल नेम में किस नाम से अपने नोटपैड की फाइल को save करना चाहते हैं वह name टाइप करें.
  9.  अब save बटन पर क्लिक कर दें.
  10.  यदि आपको नोटपैड की फाइल को ओपन करना हो तो जहां पर आप ने सेव किया है वहां पर जाकर नोटpad की फाइल को ओपन करके दोबारा से इसे मॉडिफाई कर सकते हैं.

 इस प्रकार आप अपने कंप्यूटर या लैपटॉप में नोटपैड का इस्तेमाल कर सकते हैं.  विंडो 11 के लेटेस्ट अपडेट के अनुसार नए तरीके से नोटपैड फाइल क्रिएट कर सकते हैं.

 डेस्कटॉप पर नोट पैड की फाइल कैसे बनाएं? Notepad ki file kaise banaye computer me

  1.  सबसे पहले लैपटॉप की स्क्रीन पर आपको राइट क्लिक करना है.
  2.  इसके बाद आपको न्यू वाले ऑप्शन पर घर चले जाना है.
  3.  फिर आपको नोटपैड  टेक्स्ट फाइल का ऑप्शन दिखाई देगा.
  4.  आपको नोटपैड (text file) पर क्लिक कर देना है
  5.  अब आपके डेस्कटॉप स्क्रीन पर नोटपैड की फाइल बन जाएगी.
  6.  इस पर डबल क्लिक करके इसे ओपन कर ले.
  7.  अब इसमें आप जो भी चाहे लिख सकते हैं.
  8.  लिखी गई जानकारी को सेव करने के लिए ctrl + s का इस्तेमाल करें

 इस प्रकार आप बहुत आसानी से लैपटॉप या कंप्यूटर की होम स्क्रीन पर नोटपैड की फाइल बना सकते हैं और जल्दी से किसी जानकारी को लिखना हो तो लिख सकते हैं. 

 नोटपैड के बारे में जानकारी-

 दोस्तों हमने सीखा नोटपैड क्या है और नोटपैड का उपयोग क्यों किया जाता है आप कैसे नोटपैड का इस्तेमाल कर सकते हैं इसके अलावा हमने विंडो 11 में डेस्कटॉप स्क्रीन पर नोटपैड फाइल बनाने का तरीका भी सीखा.  आपको यह जानकारी कैसी लगी नीचे कमेंट करके जरूर बताएं इस तरह की जानकारी के लिए रोजाना मेघा हिंदी वेबसाइट पर विजिट करें. 

 इस पोस्ट को अपने मित्रों के साथ भी जरूर शेयर करें. 

 कंप्यूटर में ऐप अपडेट कैसे करते हैं

 ऑपरेटिंग सिस्टम क्या होता है?

 मोबाइल में कॉल फॉरवर्डिंग क्या होता है और उसके फायदे नुकसान क्या है

गूगल क्रोम अपडेट कैसे करते हैं | Google chrome update kaise kare

Google chrome update new version kaise kare

Google chrome update karna , update latest version google chrome …

और ज्यादा पढ़ें

Chandrayaan 3 Live Isro Update in hindi -भारत का विक्रम चाँद पर लैंड करने को है तैयार

Chandrayaan 3 Live Isro Update in hindi -भारत का विक्रम चाँद पर लैंड करने को है तैयार , लैंडर विक्रम अलग

Chandrayaan 3 Live Isro Update in hindi – भारत का …

और ज्यादा पढ़ें

Youtube me video download कैसे करें Pro

यूट्यूब से वीडियो डाउनलोड करने वाला ऐप्स Youtube me video download कैसे करें Pro 2023

Youtube me video download – यूट्यूब में वीडियो डाउनलोड करना …

और ज्यादा पढ़ें