Jio का मालिक कौन है ? किस देश की Company है ?

             

आज के समय में सबको पता है कि Jio क्या होता है और यह क्या करता है लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि जिओ के मोबाइल टेलीकॉम कंपनी है आगे इस आर्टिकल में आप लोगों को बहुत कुछ जानकारी सीखने को मिलेगी साथ में आप यह भी समझ जाएंगे कि Jio का मालिक कौन है (Jio ka malik kaun hai)और इसे कब लांच किया गया था आइए शुरू करते हैं?

जिओ का मालिक कौन है ? किस देश की कंपनी है ?
jio company ka malik kaun hai aur ye kaun se desh ki company hai

यदि Jio company नहीं आता तो पता नहीं क्या होता क्योंकि Jio के आने से पहले बहुत सारी कंपनियां ऐसी थी जो Phone call के जरिए बात करने का सेवा उपलब्ध करा दी थी जिसमें AIRTEL , IDEA और BSNL ,MTNL ,, UNINAR जैसी company का सिम कार्ड इस्तेमाल किया जाता था और इसके अलावा इधर उधर की भी कंपनियां थी जो इस समय साफ हो चुकी है तो आइए जानते हैं jio ka malik kaun hai aur ye kis desh ki company hai ?

आप लोगों को जानकर हैरानी होगी कि जिओ के आने के बाद दूरसंचार जैसी कई सारे कंपनियों को अपना कामकाज बंद करना पड़ा क्योंकि Jio के शानदार और टिकाऊ ऑफर के स्पर्धा में दूसरी टेलीकॉम कंपनी टिक नहीं पाई। 

इसका कई सारा कारण है क्योंकि उस समय यदि हमें किसी से बात करनी पड़ती थी तो बहुत ज्यादा Call rate पर यह कंपनियां अपनी सेवा प्रदान करती थी और इसके लिए भारी-भरकम रकम उस कंपनियों को देना पड़ता था लेकिन यह सब देख कर ऐसा लगता था जैसे हम इसी तरह Mobile data और Phone call करने के आदी हो चुके हैं ।

और इस से ज्यादा कुछ नहीं हो सकता लेकिन जब जिओ ने आया तो सभी customer को जैसे जीने के लिए ऑक्सीजन मिल गया। 

जिओ कंपनी के आने से पहले लोग रात में मूवी डाउनलोड करने के लिए Night PAck इस्तेमाल किया करते थे और इसके लिए भी बहुत ज्यादा समय लगता था क्योंकि इंटरनेट की स्पीड भी कम मिलती थी इसी सभी समस्याओं को देखते हुए मुकेश अंबानी जी को लगा कि यही सही समय है कि हमें एक नई कंपनी जिओ का निर्माण करना चाहिए और टेलीकॉम इंडस्ट्री में आने का इससे अच्छा मौका नहीं हो सकता उसके बाद कुछ ऐसा हुआ जिसने आम लोगों की जिंदगी बदल के रख दी। 

जियो का मालिक कौन है और ये किस देश की कंपनी है ?

JIO कंपनी 2016 में मार्केट में आ गई और सबसे पहला काम मुकेश अंबानी (mukesh ambani) के द्वारा किया गया वह यह कि जिओ सिम कार्ड बिल्कुल फ्री में बांट दिया गया इसके लिए कोई पैसा नहीं लिया जा रहा था और लोगों को फ्री में सिम कार्ड (jio free sim card) मिल रहा था लोग सिम कार्ड का इस्तेमाल बखूबी कर रहे थे क्योंकि शुरुआत में जियो लोगों को फ्री में डाटा देने लगा और इसके बदले में जियो कुछ  मासिक चार्ज लेना शुरू कर दिया। 

इसके बाद तो मानो internet बिल्कुल फ्री में मिलने लगा हो और लोगों को जिओ सिम कार्ड और जिओ की internet सेवा इस्तेमाल करने की आदत सी पड़ गई बहुत खुश होकर जियो का सिम कार्ड ले लेते हो और फ्री में धमाल करने लगे यह सिम कार्ड 4G स्मार्टफोन में ही चलती थी तो उस समय मार्केट में बहुत कम 4G Phone हुआ करते थे। 

 मुकेश अंबानी को लगा कि यही सही समय है कि रिलायंस जिओ के नेतृत्व में all 4G मार्केट को कैप्चर किया जाए क्योंकि लोगों को JIO free sim card ज्यादा इस्तेमाल करने की आदत पड़ गई क्योंकि Jio Sim Card free में मिलते थे और इंटरनेट डाटा भी कम रेट पर उपलब्ध थे ।

और कई बार तो Jio ke new offer के तहत पैसे चुकाने भी नहीं पढ़ते थे सिम कार्ड बिल्कुल मुफ़्त मिलने लगे थे । इसी वजह से जिओ कंपनी के द्वारा launch किया गया 4G smartphone बहुत ज्यादा फैल होने लगे क्योंकि जिओ सिम कार्ड 4G स्मार्टफोन में चलने वाले थे। 

 जब जिओ ने अपना 4G स्मार्टफोन लॉन्च किया तो फिर से एक बार सिम कार्ड को फ्री में लोगों को देना शुरू कर दिया और स्मार्टफोन की बिक्री के जरिए पैसे कमाने लगे। 

मुकेश अंबानी का मकसद साफ था कि पहले सिम कार्ड को free में दे दो बाद में तो पैसे कमाने ही है तो जियो ने ठीक ऐसा ही किया ।

जिओ कंपनी ने अपने सभी सिम कार्ड लोगों को फ्री में देने शुरू कर दिए यानि लोगों को बांटने शुरू कर दिए ।

और थोड़े बहुत मुनाफे से काम चला लिया जो कि 4G स्मार्टफोन बेचने से आता था यहां तक कि Mukesh Ambani ने जिन लोगों के पास कम पैसे हैं उनके लिए भी 4G स्मार्टफोन को ऑफर के तहत मुहैया करवाने लगे । 

 क्योंकि उस समय 4G स्मार्टफोन बहुत कम होते थे तो रिलायंस जियो ने मार्केट से 4G स्मार्टफोन को बेचकर बहुत ज्यादा पैसे कमाए जिसकी वजह से फ्री में सिम कार्ड बांटने के नुकसान का भरपाई हो गया ।

इस तरह से आप समझ सकते हैं कि जिओ सिम कार्ड इस्तेमाल करने के साथ ही 4G फोन इस्तेमाल करने का चलन शुरू हो गया उसमें मार्केट में दूसरी 4G कंपनियां बहुत कम थे ।

और 4जी डाटा इस्तेमाल करने के लिए भी बहुत कम कंपनियां अपनी सेवा ही देती थी लेकिन जब रिलायंस जियो ने अपना 4G सिम कार्ड के साथ ही 4G स्मार्टफोन एक साथ लांच कर दिया फिर तो जैसे दूसरी कंपनियों का सूपड़ा साफ होने लगा। 

मुकेश अंबानी की यही रणनीति के बाद रिलायंस जिओ भारत में टेलिकॉम कंपनियों में सबसे टॉप लेवल की कंपनी बन गई और अपनी वाली रणनीति से Jio Company ने अपने बहुत सारे रिटेल सब्सक्राइबर बना लिए थे जिसका डायरेक्ट फायदा 4G स्मार्टफोन को बेचने में होता था। 

लोग पहले से स्लो इंटरनेट स्पीड वाली इंटरनेट सेवाएं इस्तेमाल कर के थक गए थे और लोग भी 4 g phone खरीदने के लिए पैसा देने को राजी हो गए और उन्हें तो 4G इस्तेमाल करने की आदत लग चुकी थी फ्री में सिम कार्ड आ रहे थे इसलिए लोग 4G स्मार्टफोन खरीदने लगे । 

वहीं पर दूसरी कंपनियों के Sim Card बिक्री होने कम हो गए थे क्योंकि दूसरी कंपनियां सिम कार्ड को पैसे लेकर देती थी लेकिन जिओ कंपनी सिम कार्ड को फ्री में ग्राहकों को देती थी इस कंपटीशन में जो बड़ी टेलिकॉम कंपनियां थी वह तो बच गई लेकिन जो छोटी टेलीकॉम कंपनियां थी वह टेलीकॉम इंडस्ट्री से गायब होने लगी। 

Jio का मालिक कौन है ? और यह किस देश की कंपनी है जानते हैं विस्तार से?

जिओ का मालिक कौन है ?

Jio कंपनी के मालिक मुकेश अंबानी है मुकेश अंबानी जी ने 2016 में पहली बार जिओ सिम कार्ड लांच करके टेलीकॉम इंडस्ट्री में तहलका मचा दिया जिओ कंपनी उस समय फ्री में सिम कार्ड देने का काम करने लगी जिओ कंपनी रिलायंस कंपनी की सब्सिडियरी कंपनी है। ये भी पढ़ेंYoutube का मालिक कौन है और ये किस देश की कंपनी है ?

Mukesh Ambani भारत के सबसे धनवान व्यक्ति (rich man) बनने लगे और इनका नाम और दुनिया के बड़े अमीर लोगों में आने लगे यदि इनकी अमेरिकी हिसाब से Ranking किया जाए तो पूरी दुनिया में टॉप 20 अमीर लोगों की लिस्ट में मुकेश अंबानी जी का नाम शामिल होने लगा ।

यहां तक पहुंचने के लिए मुकेश अंबानी जी को बहुत मेहनत करना पड़ा लेकिन मुकेश अंबानी अपने बिजनेस को अलग अंदाज से ही करने के लिए जाने जाते हैं और एक बार जिस चीज पर मुकेश अंबानी की नजर पड़ गई उस बिजनेस को वह बहुत शिद्दत से करते हैं और उसमें सफलता भी हासिल करते हैं। 

जिओ किस देश की कंपनी है? 

बहुत कम लोगों को पता है कि रिलायंस Jio एक भारतीय कंपनी है  ।  भारत की वेलकम कंपनी जिओ है और इसका मुख्यालय मुंबई ,महाराष्ट्र , भारत (india) में स्थित है इसके मालिक मुकेश अंबानी के पुत्र anant ambbani और isha ambani माने जा रहे हैं। 

वैसे तो जिओ कंपनी के मालिक का नाम मुकेश अंबानी है लेकिन अब मुकेश अंबानी अपने  टेलीकॉम  जिओ कंपनी को अपने बेटे आकाश को सौंपना चाहते हैं ताकि जिओ कंपनी को एक यंग लीडर मिल सके क्योंकि अब समय मुकेश अंबानी की सेवानिवृत्त का है । 

लेकिन अभी भी anant ambbani business को चलाने के लिए मुकेश अंबानी से चला और बातचीत करते रहते हैं आपको बता दें कि reliance भारत की सबसे ज्यादा  दूरसंचार मार्केट कैप्चर करने वाली एकमात्र कंपनी है। जिसका नाम अब टॉप टेलीकॉम कंपनियों में शीर्ष पर आता है ।

इस समय की बात की जाए तो भारत में जियो सिम कार्ड लगभग 10 में से हर एक व्यक्ति के पास है क्योंकि टेलीकॉम कंपनियों के मुकाबले जिओ सिम कार्ड काफी सस्ते में और इंटरनेट डाटा भी ज्यादा इस्तेमाल करने के लिए मिल जाता है। 

 दोस्तों आपको पहले क्या लगता था जिओ का मालिक कौन है और यह जिओ कंपनी किस देश की है ? आप अपनी राय हमें नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं वहीं यदि आप इस तरह के पोस्ट पढ़ने के शौकीन हैं तो आप megahindi  वेबसाइट पर रोजाना विजिट करें। 

1 thought on “Jio का मालिक कौन है ? किस देश की Company है ?”

Leave a Comment