Skip to content
Home » Home » Backlink Kya hai और Quality Backlink कैसे बनाया जाता है ?

Backlink Kya hai और Quality Backlink कैसे बनाया जाता है ?

Backlink Kya hai और Quality Backlink kaise banayen ? backlink किसी भी website के लिए बहुत ही महत्व पूर्ण फैक्टर है , क्योकि यदि आपके पास Quality क्वालिटी बैकलिंक हैं तो आप एक सक्सेसफुल ब्लॉगर बहुत जल्दी बन जाएंगे।

Backlink Kya hai और Backlink kaise बनाया जाता है को लेकर बहुत confusion है , इसलिए आज का टॉपिक हमने यही रखा है अपने ब्लॉग को सक्सेसफुल बनाने के लिए बैकलिंक बहुत जरुरी होता है और सभी बड़े bloggers इस बात को अच्छे हैं। लेकिन नए ब्लॉगर इस secret में बिलकुल नहीं जानते और इसलिए वे successful blogger नहीं बन पाते।

    लेकिन blogging में सक्सेसफुल होने का एक ही सीक्रेट है blogging SEO मतलब ब्लॉगिंग में अगर आप SEO में मास्टरी हासिल कर लिए तो आप अपने blog को पॉपुलर बना सकते हैं और वो भी बस कुछ समय में। तो आइये जानते हैं SEO का ही सबसे मुख्य पार्ट बैकलिंक (Backlink) के बारे में , मतलब बैकलिंक क्या होता है (Backlinks kya hota hai) , कैसे बनायें और बैकलिंक कितने प्रकार का होता है ?

    Backlink kya hai – What is Backlink in hindi ?

    Backlink एक तरह का लिंक (link) है , जिसका इस्तेमाल आपके website से दूसरे वेबसाइट को जोड़ने का काम करती है , यानी जब एक वेबसाइट के किसी वेबपेज का link या यूआरएल (url) किसी दूसरे website से जुड़ा होता है , तो इसको इंटरनेट की भाषा में backlink कहा जाता है। चलिए इसको हम एक उदाहरण से समझते हैं –

    मान लीजिये एक website है जहाँ ढेर सारे visitors उसके किसी आर्टिकल को पढ़ने के लिए आते हैं , और आपकी कोई site है जिसका लिंक उस वेबसाइट पर दिया गया होगा , तो उस वेबसाइट पर आने वाले विजिटर उस links पर क्लिक करके आपके webpage पर आ सकते हैं।

    इससे आपके website पर visitors बढ़ जाएंगे यानी आपके ब्लॉग पर traffic भी बढ़ने लगेगा। और इसके बाद search engine में आपके वेबसाइट का trust build होता है और आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक बढ़ने लगता है। और यदि आपको किसी अच्छी और बड़ी website से एक अच्छी Quality का Backlink मिलने लगता है तो आपका वेबसाइट सर्च इंजन में अच्छे position पर रैंक (Rank) करने लगता है , इसी प्रक्रिया को backlink कहते हैं।

      अब मुझे लगता है कि आप ” ब्लॉग में backlink क्या होता है समझ गए होंगे ” अब कुछ लिंक के प्रकार के बारे में जानते हैं क्योंकि बिना इसके आपको समझ में नहीं आएगा कि कौन सा backlink अच्छा होता है और कौन सा backlink किसी काम का नहीं होता । वैसे backlink में दो टाइप होते हैं –

      1 . do follow backlinks , and 2 . No follow backlinks

      dofollow backlink और Nofollow backlink के बारे में बाद में जानेगे , लेकिन हम यहाँ पहले backlinks के प्रकार और इस्तेमाल के अनुसार कुछ devide किए हैं जिसको हमने कुछ इस तरह से explore किया है –

      1.Links Juice लिंक जूस : जब एक वेब पेज का लिंक आपके website के किसी एक आर्टिकल के लिंक से या फिर आपके होमपेज से जुड़ा हुआ होता है , तो यहाँ से लिंक फ़्लो होकर आपके website तक पहुँच जाता है , इसे हम लिंक जूस कहते हैं । ये लिंक जूस आपके post को रैंक करने में हेल्प करता है और आपके डोमेन अथॉरिटी (Domain Authority) को बेहतर बनाता है ।

      Low quality backlink kya Hota hai

      2. Low quality links वो लिंक्स होते हैं जो किसी फैक और spam websites या पॉर्न website से आपके website पर आते हैं । ये लिंक आपके website को सिर्फ नुकसान पहुंचाते हैं । इसलिए जब आप backlink का use अपने blog या website पर करते हैं तो इसका ध्यान जरूर रखें की आपका website सिर्फ high quality sites links के साथ ही जुड़े हों ।

      High quality backlink kya Hota hai

      3. High Quality Links लिंक्स : हाई क्वालिटी baclinks आपके सिर्फ quality sites से ही मिलते हैं । और जो sites पोपुलर होते हैं सिर्फ उन्हे ही quality websites कहा जाता है । इन website की values किसी भी search engine में ज्यादा होनी चाहिए । यदि आपके sites में भी quality websites से backlinks मिलते हैं तो आपके ब्लॉग और website की रैंकिंग google जैसे सर्च इंजन मे बढ़ती है और इससे आपके website किसी भी search इंजन में high rank प्राप्त करते हैं ।

      Quality Backlinks में भी आपको एक चीज का ध्यान रखें कि आपको सिर्फ उन्ही website से backlink मिलें जो आपके website के content से relevant हो । यानि यदि आपको relevant websites से quality backlink मिलेंगे तभी आपका website गूगल में अच्छे position पर rank करेगा ।

      Relevant का मतलब ये है कि आपका ब्लॉग या website जिस भी niche पर बनाया गया हो , तो आपके blog पर मिलने वाले backlink भी same niche वाले website और ब्लॉग से आना चाहिए ।

      जैसे मानिए कि आपका ब्लॉग एक tech ब्लॉग है , मतलब आपके ब्लॉग पर जो content पब्लिश किए जाते हैं वो tech , internet , टेक्नॉलजी से जुड़ी हुई जानकारी होती है ।

      तो इसका मतलब ये है कि आपके ब्लॉग पर जो backlink मिले वो भी technology websites और blog वाले साइट्स से ही आना चाहिए । क्युकी backlink का फायदा भी तभी होगा ।

      आप खुद सोचिए कि यदि हम टेक्नॉलजी वाले आर्टिकल लिखते हैं और हमारा ब्लॉग टेक्निकल बैकग्राउंड से है और megahindi sites पर जो भी content पब्लिश किए जाते हैं , वो सिर्फ tech information पर आधारित होते हैं ।

      अब हमारे website megahindi पर जो भी visitor आएंगे वो technology वाले पोस्ट और जानकारी लेने के लिए आते हैं , वहीं हमने किसी ऐसे blog को backlink दिया है जो एक फैशन niche पर बनाया गया ब्लॉग है ।

        ऐसे में मेरे website पर जो विज़िटर आते हैं वो किसी फैशन ब्लॉग पर क्यों जाएंगे , और जब visitor उस फैशन ब्लॉग पर नहीं जाते , तो हमारे दिए गए backlinks का क्या काम ?

        इसलिए हमे relevant backlinks ही बनाने चाहिए ताकि हमारे blog को backlinks से फायदा हो , और सर्च इंजन में हमारे sites को high रैंकिंग मिले ।

        4 . internal लिंक्स : internal links वे लिंक होते हैं जो आपके website पर एक webpage से दूसरे page पर connect होते हैं । internal लिंक्स भी हमारे ब्लॉग के लिए उतना ही जरूरी होता है ।

        जैसे मानिए कि आपने कोई एक टॉपिक पर आर्टिकल लिखा है जो search engine में rank कर रहा है , ऐसे में यदि आप इस आर्टिकल पर अपने किसी और आर्टिकल जो कि relevant हो , अपने ranking blog post से internal link के throuth connect करते हैं तो आपके दूसरे आर्टिकल पर भी search इंजन से traffic आने के chance होते हैं ।

        इस internal linking seo करने से आपका आर्टिकल या आपका दूसरा post भी सर्च इंजन में high rank प्राप्त करता है । हमे लगता है कि backlinks क्या होता है इसके बारे में हमने जानकारी हासिल की ।

        अब हम सीखेंगे backlinks के टाइप यानि backlink के प्रकार ?

        Backlinks कितने प्रकार का होता है ?

        हमने आपको backlink के प्रकार के बारे में उपर बताया है कि backlink दो प्रकार के होते हैं , पहला dofollow backlink और दूसरा nofollow backlink , तो अब हम इसके बारे में विस्तार से सीखेंगे ।

        #Dofollow Backlinks

        कोई भी एक backlink जो दूसरे website से आपके website पर आता है उसे Dofollow backlinks कहते हैं । dofollow link लिंक जूस से मिलते हैं , जिसके बारे में हमने ऊपर जानकारी ली है क्योंकि do follow backlinks link जूस को पास करने में हेल्प करता है , जो एक website से दूसरे website तक पहुचाने का रास्ता sure करता है और एक साइट से दूसरे blog पर traffic लाने का काम करता है इसी को हम do follow links कहते हैं ।

        Dofollow links आपके website की रैंकिंग सुधारने और search engine में आपके website की ranking बढ़ाने में help करता है इसमें कोई attribute नहीं होता और डू फॉलो बैकलिंक (Dofollow backlink factor) आपके blog के लिए best backlink होता है , इससे आपके website को काफी फायदा होता है ।

        <a href="yourwebsitename.com"> Link Text </a>

        #NoFollow Backlink

        NoFollow Backlink एक website से दूसरे website में link जूस पास नहीं करता और No Follow links search engine में वैल्यू provide नहीं करता । नो फॉलो बैक लिंक (NoFollow Backlink) आपके blog को सर्च में ranking करने बिल्कुल काम नहीं आता है ।

        NoFollow Backlink आपके ब्लॉग के लिए भी उतना ही जरूरी होते हैं , भले इसका फायदा आपको search इंजन से डायरेक्ट ना मिले । नो फॉलो लिंक आपके websites के profile link के लिए natural लुक देते हैं , और website पर सारा लिंक do follow होने से गूगल आपके website को penalise कर सकता है , क्योंकि NoFollow लिंक का आपके ब्लॉग पर होना भी websites seo का part होता है ।

        NoFollow Backlink शुरुआत में हमारे website और ब्लॉग के लिए काफी फायदेमंद होते हैं और ये हमारे sites के content links को एक दूसरे से जोड़ने का काम करते हैं । ये भी पढ़ें – pegasus निगरानी कैसे करता है आपके whatsapp chat की पूरी जानकारी

        इसका एक और फायदा है यदि आपके site में किसी website का लिंक है और आपको उस sites का बिहैव्यर आपको सही ना लगे तो आप NoFollow attribute add कर सकते हैं ।

        इससे आपके website का link उस site के link तक नहीं जाएगा । even जाएगा तो भी उस website को आपके site से NoFollow Backlink मिलने के कारण सर्च इंजन से direct rank नहीं मिलेगा ।

        <a href="yourwebsitename.com" rel="nofollow"> Link Text </a>

        Blog / Website ke liye backlinks kaise banaye jaate hain ?

        नया blogger को शुरुआत में backlinks कैसे बनाते हैं ये पता नहीं होता जिससे उनको अपने blog par traffic लाने में सफल होने में कुछ समय लगते हैं । और किसी भी ब्लॉग के लिये quality backlinks का होना बहुत जरूरी होता है जो आपके blog site पर traffic और visitors को बढ़ाने में मददगार होता है । ये भी पढ़िए – गूगल से पैसे कैसे कमाएं ऑनलाइन से

        blog के लिए Backlinks बनाने की कोई सीमा नहीं होती , आप अपने blog के लिए जितना चाहे उतना backlinks बना सकते हैं , लेकिन ध्यान रहे एक quality backlink हजारों नॉर्मल बैकलिंक के बराबर होता है ।

        मतलब website के लिए हमेशा quality backlinks ही baanye क्योंकि quality websites से link मिलेंगे तो ही फायदा होगा , नहीं तो इन फालतू backlink से आपके blog google में rank नहीं कर सकते । और इसका कोई फायदा नहीं मिलता है ।

        blog के लिए backlinks बनाने का तरीका सीखिए – backlink Kya hai aur kaise banaye Pro tips

        1. Quality Content लिखना
        2. Guest Blogging करना
        3. other blog पर Comment करना

        Blog में Quality Content कैसे लिखते हैं ?

        quality content kya hai : blog में backlink बनाने का सबसे आसान तरीका है quality content लिखना , आपको ऐसे content बनाने चाहिए या ऐसे article लिखना चाहिए जो लोगों को पसंद आए और आपके website पर आने वाले visitors को अच्छा लगना चाहिए ।

        ऐसे content जिसको पढ़ने से लोगों को सीखने को मिलता है वो search engine में तेजी से rank होते हैं , मतलब हमेशा valuable content डिलिवर करें । इससे सर्च इंजन के बोट को पता चलता है कि इस domain से आने वाली content अच्छी quality के हैं ।

        2. Guest blogging करना शुरू करें ?

        guest blogging Kya hai : guest blogging का मतलब है किसी दूसरे popular blogs या websites पर guest post submit करना । अपने blog का article दूसरे quality blogs पर promote करने से आपके blog पर traffic बढ़ने लगता है ।

        पिछले कुछ समय से blogging के लिए गेस्ट पोस्ट (Guest Post) लिखना बढ़ने लगा है , अलग अलग पोपुलर sites पर guest article लिखने की प्रक्रिया guest blogging कहलाती है ।

        Guest blogging से आपके Website को quality backlinks मिलती हैं ।

        3. Guest Comment करना

        guest comment Kya hai : इसका मतलब किसी दूसरे blog website पर comment करना है , जब आप किसी blog पर nofollow links मिलता है । लेकिन जैसा कि हम लोग ऊपर पढ़ चुके हैं no follow backlink से हमे ज्यादा फायदा नहीं मिलता ।

        अगर आप इसे अपनी आदत बना लें और blog comment करते समय अपने blog url भी दें तो आपको अच्छी quality के backlinks मिलता है और आपके sites पर visitors आने लगते हैं , search इंजन में आपके blog की ranking भी सुधरती है और site rank होने लगती है ।

        Conclusion – backlinks kya hai ? aur kaise banaye :

        Backlinks websites और blog के लिए हमेशा फायदा पहुँचाने वाला एक फैक्टर है जिसे blogging seo के अनुसार अपने blog को search इंजन में rank कराने के उद्देश्य से इस्तेमाल किया जाता है। आशा करते हैं इस आर्टिकल से आपको बैकलिंक (Backlink kya hai) क्या है और बैकलिंक कैसे बनाये के बारे में जरुरी जानकारी मिली होगी।

        यदि ऐसा है तो आप अभी से अपने ब्लॉग को गूगल में रैंक कराने के लिए अच्छी और quality backlink को बनाना शुरू कर दें। क्योकि backlink किसी भी ब्लॉग के लिए backbone होते हैं।

        यदि आपको बैकलिंक पर लिखी गयी ये आर्टिकल पसंद आती है तो इसे अपने दूसरे मित्रो के साथ शेयर जरूर कीजिये इससे आपको तो फायदा होगा ही , बल्कि आपके मित्रो को भी backlinks के बारे में जानकारी मिलेगी।

        [WPSM_AC id=6666]

        ऐसे टेक्नॉलजी न्यूज , और टेक आर्टिकल के लिए आप हमारे Facebook Page को लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें , या डायरेक्ट Megahindi.Com पर रोजाना विस्तार से जानकारी पढ़ें , जिनमे आपको टेक न्यूज , ब्लॉगिंग , यूट्यूब और इंटरनेट टिप्स के बारे मे जानकारी दी जाती है