Skip to content
Home » Home » Software kya hota hai aur software kitne prakar ke hote hain

Software kya hota hai aur software kitne prakar ke hote hain

Software kya hota hai aur software kitne prakar ke hote hain – आज हम जानेंगे सॉफ्टवेयर क्या होता है? सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं और कंप्यूटर में इनका क्या प्रयोग होता है जिनको को पता नहीं है सॉफ्टवेयर कितने टाइप के होते हैं उनको यहां दी गई सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक समझना चाहिए और उसके बाद आपको पता चल जाएगा कि सॉफ्टवेयर (software) या एप्स (apps) कितने प्रकार के बनाए गए हैं .

what is software and its types in hindi explained

वैसे तो इनके और भी प्रकार हैं लेकिन मुख्य तौर पर सॉफ्टवेयर तीन प्रकार के होते हैं (3 types of software in computer in hindi) जिनके बारे में  आगे हम पढ़ने वाले हैं तो आइए शुरू करते हैं. सबसे पहले हम जानेंगे सॉफ्टवेयर क्या होते हैं?what is software in hindi

Software kya hota hai aur software kitne prakar ke hote hain
what is software and its types in hindi

 सॉफ्टवेयर क्या होता है? कितने प्रकार के होते हैं [Software kya hota hai aur software kitne prakar ke hote hain]

Computer program का एक ऐसा समूह  है जो किसी कंप्यूटर user को कंप्यूटर पर या किसी दूसरे इलेक्ट्रॉनिक device पर काम करने की क्षमता प्रदान करता है. सॉफ्टवेयर एक प्रकार का एप्लीकेशन या app ही है जिसे हम यूजर इस्तेमाल करते हैं .

सॉफ्टवेयर एक प्रकार से किसी भी कार्य को करने के लिए दिए गए दिशा निर्देशों का एक बंडल (bundle) होता है जिसे किसी कंप्यूटर द्वारा निर्देशों का पालन करना होता है.

 बिना software के कोई भी यूजर किसी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जैसे मोबाइल ,कंप्यूटर, लैपटॉप से बात नहीं कर सकता या किसी भी कार्य को पूर्ण नहीं कर सकता.

 Software kya hota hai ?

 सॉफ्टवेयर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (programming language) के द्वारा बनाया जाता है क्योंकि कोई भी मशीन हमारे द्वारा दिए गए दिशा-निर्देशों को तभी पालन कर सकता है.

 जब उनकी (computer) भाषा (language) में यानी मशीनी भाषा में हम उन्हें कुछ instruction दें या निर्देश दें और कंप्यूटर मशीनी भाषा को समझता है इसलिए सॉफ्टवेयर के द्वारा हम कंप्यूटर से बात कर सकते हैं और कंप्यूटर पर काम कर सकते हैं.

 एक तरह से software का इस्तेमाल करने से कंप्यूटर पर काम करना काफी आसान हो जाता है आजकल सॉफ्टवेयर या एप्लीकेशन हर जगह इस्तेमाल किए जा रहे हैं.

 और हर category के सॉफ्टवेयर आपको internet पर मिल जाएंगे जिनका विभिन्न कार्यों में इस्तेमाल किया जाता है आइए अब जानते हैं सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं.(software kitne prakar ke hote hain) ये भी पढिए – गूगल से पैसे कैसे कमाएं

 सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं? [types of software in hindi]

सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किसी computer को कंट्रोल करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है और इस आधार पर कई प्रकार के सॉफ्टवेयर एक कंप्यूटर में रन किए जाते हैं जिनमें ( System software ,Utility software and application software ) सिस्टम सॉफ्टवेयर यूटिलिटी सॉफ्टवेयर और एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर होता है.

1. System software सिस्टम सॉफ्टवेयर क्या होता है?

System software kya hota hai ?

सिस्टम सॉफ्टवेयर किसी भी हार्डवेयर और application software  के बीच में कम्युनिकेशन करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है और सिस्टम सॉफ्टवेयर काफी महत्वपूर्ण सॉफ्टवेयर होता है बिना  System software के हम एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल भी नहीं कर सकते क्योंकि यह एक तरफ से किसी भी computer या इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस (electronic device) के लिए बहुत ही जरूरी सॉफ्टवेयर होता है.

 सिस्टम सॉफ्टवेयर को हम ऑपरेटिंग सिस्टम (os) सॉफ्टवेयर भी कहते हैं जैसे windows OS , linux , mac OS , और android. यह सभी सिस्टम सॉफ्टवेयर के उदाहरण है.

 System software examples in hindi – 

Windows OS , Chrome Os , Android , Mac OS , linux , ubuntu , IOS , blackberry etc

 ऑपरेटिंग सिस्टम किसी भी डिवाइस के ram में install किया जाता है ताकि उस डिवाइस को start  किया जा सके और उस डिवाइस में दिए गए hard drive को एक्सेस किया जा सके. 

2. Utility software – यूटिलिटी सॉफ्टवेयर क्या होता है? [what is a utility software]

utility software kya hota hai ?

यूटिलिटी सॉफ्टवेयर सिस्टम सॉफ्टवेयर का ही एक हिस्सा है और जब कंप्यूटर run करता है तो कई सारे महत्वपूर्ण काम किसके द्वारा परफॉर्म किए जाते हैं.  जब कंप्यूटर रन करता है तो बैकग्राउंड में Utility software हमेशा रन करते हैं. 

Utility software का काम कंप्यूटर की सिक्योरिटी और किसी भी प्रोग्राम को optimiza करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

 जैसे मान लीजिए कंप्यूटर में viruses आ गया हो तो कंप्यूटर में से वायरस को remove करने के लिए जिस एंटीवायरस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया जाता है यह एक security प्रोग्राम के अंदर आता है और यह एक यूटिलिटी सॉफ्टवेयर का उदाहरण है.

Utility software examples –

Antivirus software , file management system , disk cleanup ,backup Utility and recovery apps etc.

 कई सारे कंप्यूटर ऐसे होते हैं जिनमें कुछ short type के एंटीवायरस सॉफ्टवेयर include किए जाते हैं जिसका इस्तेमाल आप अपने कंप्यूटर से वायरस को remove करने के लिए कर सकते हैं इसके अलावा भी आप चाहे तो अलग से antivirus सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कर सकते हैं.

 वहीं पर ऑप्टिमाइजेशन प्रोग्राम (optimisation programs) का इस्तेमाल सिस्टम को clean करने के लिए और कंप्यूटर में disk defragmentation और files को कंप्रेस करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है.  इस तरह के सॉफ्टवेयर को ऑपरेटिंग सिस्टम के part में ही install  कर दिया जाता है.

3. Application software – एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर क्या होता है? [what is application software in hindi]

application software kya hota hai ?

कंप्यूटर पर सभी काम ऑपरेटिंग सॉफ्टवेयर से नहीं हो सकता ऑपरेटिंग सॉफ्टवेयर का मतलब (operating software ka matlab) ऑपरेटिंग सिस्टम से है वहीं पर यूटिलिटी सॉफ्टवेयर या एप्लीकेशन भी कई सारे काम नहीं कर सकते वहीं पर बात आती है एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर की तो क्या होता है Application software.

 एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को हम आम भाषा में app भी कहते हैं.

Application software तीसरे नंबर का सॉफ्टवेयर है पहले नंबर पर किसी भी डिवाइस (computer ya laptop) में इंस्टॉल किया गया system सॉफ्टवेयर होता है जैसे ऑपरेटिंग सिस्टम हम अपने कंप्यूटर और लैपटॉप में windows OS ,linux OS और mac OS का इस्तेमाल करते हैं .

वहीं पर हमने बात कर ली यूटिलिटी सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किस लिए किया जाता है और यह जो एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर है यह सबसे लास्ट में आता है यानी Application software तीसरे नंबर का सॉफ्टवेयर है जिसे हम आसान भाषा में ऐप भी कहते हैं.

Application software हमारे कंप्यूटर में install किए गए ऑपरेटिंग सिस्टम में load किए जाते हैं और एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर के जितने भी files है वह हमारे कंप्यूटर के hard drive में save किए जाते हैं. ये भी पढिए – गेम खेलकर पैसे कैसे कमाएं

 लेकिन यह सिर्फ हार्ड ड्राइव में save  होते हैं.  और इसीलिए जब कंप्यूटर hang करता है या respond नहीं करता तो यदि आपने कोई भी files save नहीं की होती है तो हमारे द्वारा किया गया data loss हो जाता है. 

Application software examples in hindi –

Google app , chrome app , facebook app , whatsapp , youtube , apple store , etc

 ऑपरेटिंग सिस्टम क्या होता है (operating system kya hota hai) ऑपरेटिंग सिस्टम के बारे में तो हमने अलग से यहां पर जानकारी दी है आप यहां पर लिंक पर क्लिक करके ऑपरेटिंग सिस्टम क्या होता है और यह कितने प्रकार का होता है इसके बारे में जानकारी ले सकते हैं 

आज हमने क्या सीखा?

Software kya hota hai aur software kitne prakar ke hote hai

 आज हमने सीखा सॉफ्टवेयर क्या होता है और सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं हमने यहां पर  System software , Utility software और Application software के बारे में अच्छे से जानकारी ली और समझा कि सिस्टम सॉफ्टवेयर और यूटिलिटी सॉफ्टवेयर के साथ एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर कहां पर इस्तेमाल किए जाते हैं .

और इनका काम क्या होता है यदि इसके बाद भी आपको कुछ बातें समझ में नहीं आई है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं यदि आपको यह जानकारी पसंद आई है तो आप इसे व्हाट्सएप और फेसबुक के ग्रुप में शेयर जरूर करें ताकि दूसरे लोगों को भी सॉफ्टवेयर के बारे में जानकारी पता हो.