Skip to content
Home » Home » कंप्यूटर (Computer) क्या है और Computer का फुल फॉर्म क्या है ?

कंप्यूटर (Computer) क्या है और Computer का फुल फॉर्म क्या है ?

कंप्यूटर का फुल फॉर्म क्या होता है : कंप्यूटर एक मशीन है जो कुछ तय निर्देशों के अनुसार कार्य को संपादित करता है, यह एक ऐसा इलेक्ट्रांनिक यंत्र है,जिसे बनाया गया है जानकारी के साथ काम करने के लिए यह शब्द् computer, latin के शब्द computer से लिया गया है। इसका अर्थ है calculation करना या गड़ना करना,

कंप्यूटर (Computer) क्या है- इसका मुख्य तौर से तीन काम है, पहला डाटा को लेना जिसे हम input कहा जाता है , दूसरा काम उस डाटा को processing करने का होता है और अंतिम काम उस processed डाटा को दिखाने का होता है जिसे output भी कहते हैं,

             INPUT DATA  –  PROCESSING DATA – OUTPUT DATA

-Computer kaam kya karta hai

मॉडर्न computer के जनक को Charles Babbage को कहा जाता हैं। क्योंकि उन्होंने ही सबसे पहले Mechanical computer को डिजाईन किया था, जिसे Analytical Engine के नाम से भी जाना जाता हैं, इसमें punch Card की मदद से डाटा को insert किया जाता था.

कंप्यूटर का फुल फॉर्म क्या है- Full form of Computer
कंप्यूटर का फुल फॉर्म क्या है- Full form of Computer

तो computer को हम एक ऐसा advanced इलेक्ट्रांनिक device कह सकते हैं जो की Raw data को input के तोर में user से लेता है फिर उस डाटा को Program (Set of instruction) के द्वारा प्रोसेस करता है और आखिर में परिणाम को output के रूप में प्रकाशित करता है ये दोनों numerical और non nunumerical (arithmetic and logical) calculation को process करता है,

कंप्यूटर का फुल फॉर्म क्या है- Full form of Computer

तकनीकी रूप से computer कोई फुल फॉर्म नहीं होता है फिर भी computer का एक काल्पनिक फुल फॉर्म है।

C  –  commonly

O  –  Operated

M  –  Machine

P  –  Particularly

U  –  Used For

T  –  Technical and

E  –  Educational

R  –  Research

अगर आप इसे हिंदी में translate करेंगे तो कुछ ऐसे कहा जाएगा आपरेटिंग मशीन विशेष रूप से व्यापार, शिक्षा और अनुसंधान के लिए उपयोग की जाती हैं।

History of Computer – कंप्यूटर का इतिहास को सही तरह से प्रमाण नहीं किया जा सकता हैं कि कब से कंप्यूटर का development शुरु किया गया, लेकिन officilly कंप्यूटर का development को generation के मुताबिक Computer को classiffy कर दिया गया है ये मुख्य तोर से इसे 5 हिस्सों मे बांटा गया है।

Computer की generation को अच्छे से समझने और याद करने के लिए इसे कई Version में डिवाइड कर दिया गया , और Generation में अलग अलग कर दिया गया ताकि इसको आसानी से समझा जा सके।

(१) computer की पहली पीढ़ी – 1940-1956 Vaccum Tubes सबसे पहले generation के computer vaccum Tubes को circitry और Magnetic Drum को memory के लिए  इस्तेमाल करते थे। ये Size में काफी बड़े बड़े हुआ करते थे, इनको चलाने मे काफी Power का इस्तेमाल होता था, ज्यादा बड़ा होने के कारण इसमें heat की भी बहुत समस्या होती थी , जिससे कई बार Miss – function भी होता था, इनमें Machine Language का इस्तेमाल होता था.

Example के लिए UNIVAC abd ENIAC computers,

(२) कंप्यूटर की दूसरी पीढ़ी – 1956 – 1963 Transistors ने Vaccum Tubes की जगह ले ली , Transistor बहुत ही कम Space लेते थे , इसके साथ छोटे , तेज़ , सस्ते , और ज्यादा Energy Efficient थे। ये पहली पीढ़ी यानी First generation के Computer की तुलना में कम heat generate करते थे लेकिन फिर भी इसमे heat की समस्या अभी भी थी, इनमें High Leval Programming Language जैसे COBOL और Fortran को Use में लाया गया था।

(३) कंप्यूटर की तीसरी पीढ़ी – 1964 -1971 “Integrated Circuits” Third generation के कंप्यूटर में पहली बार Integrated Circuit का इस्तेमाल किया गया था, जिसमे Transistors को छोटे छोटे कर Silicon Chip के अंदर डाला जाता था जिसे semi conductorn कहा जाता है, इसमें ये, फायदा हुआ की कंComputer की Processing करने की क्षमता काफी हद तक बड़ गयी।

पहली बार इस generation के computers को ज्यादा user friendly बनाने के लिए Monitors , Keyboard और Operating System का इस्तेमाल किया गया , और इसे पहली बार Market में Launch किया गया,

(४) कंप्यूटर की चौथी पीढ़ी – 1971 – 1985 “Microprocessors” Forth Generation की ये खासियत है की इसमें Microprocessor का इस्तेमाल किया गया, जिससे हजारों Integrated Circuit को एक ही सिलिकान Chip मे Embedded किया गया, इससे मशीन के आकर को कम करने मे बहुत आसानी हुई। Microprocessor के इस्तेमाल से computer की effciency और भी बढ़ गयी, ये बहुत ही ज्यादा काम करता था और बड़े बड़े कैलकुलेशन कर पा रहा था,

(५) कंप्यूटर की पांचवी पीढ़ी– 1985 – Present Artificial Intelligence fifth generation आज के दोर का Computer है। जहाँ की Artificial Intelligence ने अपना दब- दबा कायम कर लिया है , और अब नयी – नयी Technlogy जैसे Speech Recognition, Parallel Processing, Quantam तकनीक इस्तेमाल में आने लगे हैं , ये एक ऐसा generation है ,जहा computer की Artificial Intelligence होने के कारण स्वयं Decision लेने की क्षमता काफी विकसित हो चुकी हैं, धीरे धीरे इसके सारे काम Automated हो जायेंगे।

ये भी पढ़ें – Windows 10 में Apps कैसे Download करें ? step by step

ये भी पढ़ें – Windows 11 Release Date ? कब आएगा

ये भी पढ़ें – Windows 10 में Multiple Desktop कैसे सेट करें ?

ये भी पढ़ें – Computer का Full Form क्या है ? Explain

ये भी पढ़ें – Windows 10 में Software Download /Install कैसे करें ?

ये भी पढ़ें – Windows 10 में New User Account कैसे बनाये ?

ये भी पढ़ें – Windows 10 Update Uninstall कैसे करें ? Step by Step

ये भी पढ़ें – Windows 10 में Bluetooth Driver update कैसे करें ?

ये भी पढ़ें – Windows 10 Update कैसे करें ? How to Update Windows